Jupiter Stone Yellow Sapphire

09 ग्रहों में उच्तम स्थान रखने वाले ग्रह को ब्रहस्पति यानि Jupiter कहा जाता है। Jupiter Stone Yellow Sapphire को हिंदी में पुखराज कहा जाता है। पुखराज का उपयोग अंगूठी, झुमको आदि आबूषणों में किया जाता है। इसका रंग पीला दिखाई देता है। कुछ पुखराज सफ़ेद रंग के भी होते हैं Jupiter Stone Yellow Sapphire को संस्कृत और हिंदी में पुखराज, फ़ारसी में जर्द अथवा याकूत तथा अंग्रेजी में टोपे तथा yellow sapphire कहा जाता है। जो वयक्ति इसे धारण करता उसके घर धन सम्पति, आयु तथा यश में वृद्धि मिलती है। इतना नहीं यह भूत प्रेत के साए से भी निजात दिलवाने में सहयता करता है। यदि लड़की की शादी में विलम्भ हो रहा हो तो यह Jupiter Stone Yellow Sapphire बहुत मदद करता है। इसको पहनने से जातक को meditation में भी काफी सहायता मितली है। Jupiter Stone Yellow Sapphire के कई उपरत्न भी है, जैसे – संग कहरवा, संग सोना मक्खी, संगघीया कपूर, संग सोनेला।

Jupiter Stone Yellow Sapphire
PUKHRAJ

बिमारियों पर Jupiter Stone Yellow Sapphire का प्रभाव 

ग्रंथो के according Jupiter Stone Yellow Sapphire से कई भीषण बिमारियों का नाश किया जा सकता है। जैसे कि पीलिया, एकांतिक ज्वर, तिल्ली, गुर्दो कि रोग, दन्त रोग, नेत्र रोग, खांसी, दमा आदि। ये कुष्ट एवं चमड़ी के रोगों का भी शत्रु है।

Jupiter Stone Yellow Sapphire धारण करने की विधि

ध्यान रहे ब्रहस्पत यानि वीरवार के दिन जब पुण्य नक्षत्र हो, उस दिन सुबह के 11 बजे के अंदर सोने की अंगूठी में पुखराज को जड़वाना चाहिए। इसके बाद अगले वीरवार को 09 तोले चांदी के यन्त्र पर गुरु का यन्त्र अंकित करवा कर उस पर चने दाल का अष्टकमल निर्माण करें। फिर उस पर अंगूठी को विस्थापित करें। इसके बाद धूप-दीप जलाकर – om ai shri brehspataye namah का उच्चारण करते हुए 4500 आहुतियाँ दें, फिर आरती कर पूजन विसर्जन करें और मुद्रिका को पहले वाली ऊँगली जो अँगूठे के पास में होती है उस में धारण करें। ध्यान रहे Jupiter Stone Yellow Sapphire का प्रभाव जातक के ऊपर 04 साल 03 महीने 18 दिन दिन तक बना रहता है। अत: इस अवधि के पूरे होते ही मुद्रिका उतार कर बेच दें और दूसरी मुद्रिका धारण करें। पहले जैसी प्रिक्रिया कर के ही धारण करें।

पुखराज प्राप्ति के स्थान

यह रत्न ग्रेनाइट, नाइस तथा पैरमेटाइट शिलाओं में मिलता है। रूस और साइबेरिया में Jupiter Stone Yellow Sapphire ग्रेनाइट की गुफाओं में मितला है। यहाँ पे मिलने वाला पुखराज नीले रंग का होता है। इसके इलावा पुखराज ब्राजील की खानों से भी मिलता है। ब्राजील से मिलने वाला Jupiter Stone Yellow Sapphire सभ से बढ़िया किसम का माना जाता है। श्री लंका, जापान, मेक्सिको, तस्मानिया, न्यू इंग्लैंड आदि देशो में भी अच्छे पुखराज पाए जाते हैं।

अधिक जानकारी के लिए निचे  दिए हुए comment box में comment करे आपको पूरी जानकारी दी जाएगी।

रतन धारण करने से पहले अपने फैमली एस्ट्रोलॉजर से सलाह जरूर लें।

रत्नो के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *